Wednesday, April 26, 2017

वो मसीहा आएगा : james bond

जासूसी साहित्य में जो स्थान शेरलॉक होम्स का है सिनेमा के परदे पर वही जगह जेम्स बांड की है। इन दोनों काल्पनिक पात्रों ने लोकप्रियता की वह ऊंचाई हासिल की है जो किसी और चरित्र के बुते की  नहीं है। इन दोनों ही किरदारों ने अपने रचियता को काफी पीछे छोड़ दिया है। जेम्स बांड की पहली फिल्म डॉ नो ( 1962 ) से लेकर 2015 में आई चौबीसवी  फिल्म ' स्पेक्टर ' तक दर्शको की पसंद पर खरी उतरी है।  इन फिल्मो ने ना सिर्फ दर्शको दिल जीता है वरन बॉक्स ऑफिस को भी मालामाल किया है। इन फिल्मो का केंद्रीय पात्र एक ब्रिटिश जासूस है जो एम् आई 6 के लिए काम करता है। जेम्स बांड को एक कोड नाम भी दिया गया है oo7 ( डबल ओ सेवन ) . दूसरे जासूसों से उलट जेम्स कभी अपनी पहचान नहीं छुपाता वह बिंदास होकर अपना परिचय देता है ' नेम इस बांड , जेम्स बांड !
जेम्स बांड की फिल्मे बड़े विशेषणों से लबरेज  रहती है।  बड़ा बजट , भव्य लोकेशंस ,बड़े सेट्स , बड़ी स्टार कास्ट , आधी दुनिया में फैला कथानक , अत्याधुनिक कारे ,  सब कुछ कल्पना से परे। 
जेम्स बांड की सभी फिल्मे इयान फ्लेमिंग के उपन्यासों पर आधारित होती है। ये फिल्मे इस लिहाज से अनूठी होती है कि कथानक सर्व विदित होता है परन्तु फिल्मांकन का तरीका जुदा होता है। पिछली आठ फिल्मो से जेम्स की बोस एक अधेड़ महिला ' एम् ' रही है जो उसे हर बार एक मिशन पर इस समझाइश के साथ भेजती है कि ' जिंदा वापस आना जेम्स '' ! 
2018 में जेम्स बांड सीरीज की नयी फिल्म आने की संभावना है। इस श्रंखला के समस्त अधिकार  ' एम् जी एम् ' व  'ईऑन प्रोडक्शन ' के पास है। इन  स्टूडियो के सूत्रों ने बताया है कि फिलहाल अगली फिल्म के लिए कुछ भी फाइनल नहीं हुआ है।  पिछली चार फिल्मो में बांड बने डेनियल क्रैग ही हीरो रहेंगे या किसी और को मौका दिया जाएगा , स्पस्ट नहीं है। उन्होंने यह जरूर स्वीकार किया कि अगली फिल्म के वितरण अधिकार ( distribution rights ) बेचने के लिए बोली लगाने का काम आरम्भ हो  गया है। पिछली फिल्म ' स्पेक्टर ' के डिस्ट्रीब्यूशन राइट सोनी ( sony ) के पास थे जिसने 57 मिलियन डॉलर का मुनाफा कमाया था। इस बार दौड़  में सोनी के अलावा चार बड़े स्टूडियो - वार्नर ब्रदर्स , यूनिवर्सल पिक्चर , ट्वेंटीथ सेंचुरी फॉक्स एवं एक और अमेरिकन कंपनी ' अन्नपूर्णा पिक्चर ' शामिल है .अन्नपूर्णा पिक्चर का भारत से कोई रिश्ता नहीं है। यह स्टूडियो ओसामा बिन लादेन पर बनी चर्चित फिल्म ' जीरो डार्क थर्टी ' के सफल डिस्ट्रीब्यूशन को लेकर चर्चा में आया है।   
फिलवक्त पच्चीसवां  जेम्स बांड अपनी फिल्मो के क्लाइमेक्स की तरह रहस्य बना हुआ है। करोडो प्रशंसक , अरबो डॉलर का कारोबार और सिल्वर स्क्रीन पर  किसी अनजान नए खतरे से दुनिया को बचाने के लिए उसे आना ही होगा !! 

1 comment:

  1. आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन 97वीं पुण्यतिथि - श्रीनिवास अयंगर रामानुजन और ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है। कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।

    ReplyDelete

मैडम तुसाद में एक लड़की भीगी भागी सी

'' एक धूप का टुकड़ा हमे थोड़ी देर के लिये उधार दिया गया था " अरुंधति रॉय के बुकर विजेता उपन्यास की यह लाइन मधुबाला के ...